Don't Miss
Home / Features News / पारंपरिक लोकगीत-सुआ और बैगा नृत्य के माध्यम से मतदाता जागरूता का दिया संदेश

पारंपरिक लोकगीत-सुआ और बैगा नृत्य के माध्यम से मतदाता जागरूता का दिया संदेश

खबरीलाल रिपोर्ट (कवर्धा) : कबीरधाम जिले के बैगा आदिवासी बाहूल्य पंडरिया विकासखण्ड के सुदूर एवं दुर्गम पहाड़ियों की पर स्थित ग्राम पंचायत बदना में गुरूवार को भारत निर्वाचन आयोग के अनुपालन में स्वीप कार्यक्रम के तहत मतदाता जागरूकता अभियान का आयोजन किया गया। मतदाता जागरूकता आयोजन में कलेक्टर व जिला निर्वाचन अधिकारी श्री अवनीश कुमार शरण, पुलिस अधीक्षक डॉ. लाल उमेद सिंह, जिला पंचायत के मुख्यकार्यपालन अधिकारी व स्वीप कार्यक्रम के जिला नोडल अधिकारी कुंदन कुमार, वनमंडलाअधिकारी दिलराज प्रभाकर, जनपद पंचायत के मुख्यकार्यपालन अधिकारी नवीन कुमार भट्ट शामिल हुए। ।। सुदूर वनांचल ग्राम पंचायत बदना और आसपास के दस ग्राम पंचायत के बीएलओ और महिला स्वसहायता समूह ने निभाई सक्रिय भागीदारी ।। # मतदाता जागरूकता इस शिविर में बदना, दमगढ़, पंडरीपानी, महीडबरा, सहित आसपास के दस ग्राम पंचायत के आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, निर्वाचन कार्य से जुडे बीएलओ, महिला स्वसहायता समूह के कार्यकर्ता और स्कूली विद्यार्थी शामिल हुए। मतदाता जागरूकता अभियान चल कबीरधाम मतदान करे बर, अपना फर्ज निभाना है, मतदान करने जाना है, ऐसे नारों और स्लोगन के साथ सभी लोग कार्यक्रम स्थल पर उपस्थित हुए। आंगनबाडी कार्यकर्ता बीएलओ और महिला स्वसहायता समूह के सदस्यों द्वारा छत्तीसगढ़ की कला संस्कृति पर आधारित लोक गीत, सुआ नृत्य और बैगा समुह ने अपने पारंपरिक बैगा नृत्य, डंडा नृत्य के माध्यमों में मतदाता जागरूकता का संदेश दिया। इस समूह के द्वारा अलग-अलग गीतों के माध्यम आगागी विधानसभा निर्वाचन में मतदान के दिन 20 नवम्बर को शत प्रतिशत मतदान करने के लिए प्रोत्साहित भी किया गया।

आयोजन स्थल पर नए मतदाताओं बीएलओ के माध्यम स्वागत भी किया गया। @ कलेक्टर अवनीश कुमार शरण ने आगामी निर्वाचन में मतदान की प्रक्रिया में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित करते हुए कहा कि प्रत्येक नागरिक को लोकतंत्र का मजबूत बनाने के लिए मतदान अवश्यक करना चाहिए। उन्होने कहा कि अगामी 20 नवम्बर 2018 को लोकतंत्र का महापर्व है। इस दिन विधानसभा निर्वाचन के लिए मतदान की तिथी निर्धारित की गई है। उन्होने कहा कि शत प्रतिशत मतदान ही मतदाता जागरूकता का लक्ष्य है। पिछले निर्वाचन में इस वनांचल क्षेत्र से लगभग 60 प्रतिशत का मतदान हुआ था, इस बार शत प्रतिशत मतदान होने चाहिए। उन्होने देश और राज्य के जिम्मेदार नागरिक होने का परिचय देते हुए मतदान प्रक्रिया में भाग लेने की अपील की है। उन्होने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा दिव्यांग मतदाताओं के लिए मतदान केन्द्रों में विशेष व्यवस्था की गई है।

उन्हे मतदान केन्द्र के कक्ष तक व्हील चेयर के माध्यम से पहुंचाया जाएगा। साथ ही उन्हे घर ले मतदान केन्द्र तक भी लाने और घर पहुंचाने का प्रावधान रखा गया है। आयोग के निर्देशानुसार मतदान केन्द्रों में व्हील चेयर की व्यवस्था सुनिश्चित की जा रही है। @ पुलिस अधीक्षक डॉ लाल उमेद सिंह ने संबोधित करते इस क्षेत्र के नागरिकों को मतदान के दिन मतदान केन्द्र पहुंच कर मतदान करने की अपील की है। उन्होने कहा कि विविध माध्यमों से आकर्षक और मतदाता जागरूकता अभियान कर जागरूकता का संदेश दिया जा रहा है। आयोजन की सार्थकता तभी होगी जब हम सब मिलकर लोकतंत्र को मजबूत बनाते हुए मतदान करेंगे। @ जिला पंचायत व स्वीप कार्यक्रम के जिला नोडल अधिकारी कुंदन कुमार ने कहा कि पंडरिया के इस वनांचल बदना गांव में आयोजन की रूपरेखा और इसकी व्यपकता से यह प्रदर्शित हो रही है कि यहां के मतदाता जागरूक है। उन्होने कहा कि पिछले निर्वाचन में इस क्षेत्र के मतदान केन्द्र का मतदान प्रतिशत 60 प्रतिशत तक हुआ था, इस पर 60 प्रतिशत से बढ़कर शत प्रतिशत होना चाहिए। उन्होने स्कूली विद्यार्थियों और निर्वाचन कार्य से जुड़ी बीएलओ को कहा कि वे अपने आसपास और गांव के लोगों को आगामी 20 नवम्बर को मतदान करने के लिए प्रोत्साहित करें। आपके प्रयासों से शत प्रतिशत मतदान का लक्ष्य पूरा हो सकेंगा। वन मंडलाअधिकारी श्री दिलराज प्रभाकर ने मतदाताओं को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि हर मतदाता अपने भाग्य का विधाता है। उनहोने इस निर्वाचन में बिना किसी प्रलोभन से मतदान में भाग लेने की अपील की है। इस आयोजन में जनपद पंचायत के समस्त अधिकारी-कर्मचारीगण उपस्थित थे।

About Naitik Awaj

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll To Top