Don't Miss
Home / Uttarakhand / उत्तराखंड मैं है टूरिज्म छेत्र में अपार संभावनाएं – केन्द्रीय पर्यटन राज्य मंत्री केजे एलफोन्स

उत्तराखंड मैं है टूरिज्म छेत्र में अपार संभावनाएं – केन्द्रीय पर्यटन राज्य मंत्री केजे एलफोन्स

investor summit

निवेशक सम्मेलन के प्रथम दिन आँडी प्रथम में टूरिज्म एण्ड हास्पिटैलिटी विषय पर बोलते हुए केन्र्दीय पर्यटन राज्य मंत्री केजे एलफोन्स ने कहा कि उत्तराखंड में साहसिक, वाटर, एडवेंचर आदि में पर्यटन की अपार संभावनाएं है। उन्होंने पर्यटन के विभिन्न क्षेत्रों में निवेशकों को निवेश हेतु आमंत्रित किया।
उन्होंने पर्वतारोहण, रीवर राफ्टिंग, वाटर स्पोट्स, पैराग्लाइडिंग, बंपीजंपिंग, स्कीइंग आदि क्षेत्रों में निवेशकों को निवेश करने के लिए आमंत्रित किया। उन्होंने कहा कि राज्य के अनछुए पहलुओं के साथ अर्धविकसित क्षेत्रों के व्यापक विकास से राज्य की आर्थिकी मजबूत होगी और रोजगार भी उपलब्ध होगा। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड का सौन्दर्य बेजोड़ होने के साथ साहसिक पर्यटन में रूचि रखने वाले लोगों के लिए एक अवसर प्रदान कर रहा है। उन्होंने इनवेस्टर्स से आगे आने को कहा। उन्होंने कहा कि राज्य एडवेंचर टूरिज्म के क्षेत्र में पिछले कुछ वर्षो से प्रमुख आकर्षक का क्षेत्र बन रहा है, इसलिए निवेशक आकर्षक पैकेजों के साथ अपना निवेश करें।

पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने निवेशक सम्मेलन में बोलते हुए कहा कि राज्य में पर्यटकों की सुविधा हेतु केन्र्द व राज्य सरकार हर मौसम के उपयुक्त सड़कों के निर्माण के महत्वाकांक्षी लक्ष्यों पर चलते हुए अवसंरचना विकास कार्यो पर कार्य अर रही है। उन्होंने कहा कि राज्य में विकास की गति तेज किए जाने हेतु जिलों को हवाई और रेल सेवा से जोड़ा जा रहा है। उन्होंने कहा कि भारत के सबसे तेजी से विकसित होते राज्यों में से एक उत्तराखंड राज्य निवेशकों के लिए आर्थिक दृष्टि से अतयंत महत्वपूर्ण है, यहां असीमित अवसर है इसलिए निवेशक वेहिचक पर्यटन के क्षेत्र में अपना निवेश करने के लिए आमंत्रित हैं।

उन्होंने कहा कि राज्य में पर्यटन नीति को देशी-विदेशी पर्यटकों के.बीच और आकर्षक बनाने के लिए नये उत्पादों के विकास पर केन्र्दीत है। उन्होंने कहा कि पर्यटन नीति में राज्य में पर्यटन क्षेत्र में अवसंरचना में निवेश हेतु आकर्षक प्राविधान रखे है और प्रोत्साहनों की रूपरेखा छोटे और बड़े दोनों प्रकार के निवेशकों के हितों को ध्यान में रखकर तैयार की गई है।
सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर ने अपने सम्बोधन में कहा कि उत्तराखंड सरकार ने पर्यटन सेक्टर को ऊद्योग का दर्जा दिया है तथा राज्य में पर्यटन के विकास हेतु पर्यटन नीति भी लागू की जा चुकी है। राज्य सरकार द्वारा पर्यटन के विकास हेतु एक विकसित प्रणाली का विकास किया है , पर्यटन के क्षेत्र में 30 हजार करोड़ रूपये से अधिक का निवेश के एमओयू हस्ताक्षरित हो चुके हैं।
पर्यटन सत्र में रितेश अग्रवाल ने होटल एक्टिविटीज, निखिल ने टूरिज्म पाँलिसी, मंदीप ने ईको टूरिज्म के सम्बन्ध में अपनी बात रखी। सत्र में विभिन्न क्षेत्रों से आये निवेशक मौजूद थे।

About Naitik Awaj

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll To Top